अमलापुरम (आंध्र प्रदेश) : पूर्वी गोदावरी जिले की अमलापुरम अतिरिक्त कोर्ट ने दामाद की हत्या करने वाले ससुर को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। साथ ही दो हजार रुपये का जुर्माना भी ठोका है।

आपको बता दें कि जिले के उप्पलगुप्तम मंडल परिधि के भीमनपल्ली निवासी लोकिनेडी अक्किराजू का दामाद अमलदासू सत्ती बाबू हर साल आषाढ़ माह में ससुराल के घर आता-जाता था। अक्किराजू का मानना था कि आषाढ़ माह में दामाद का घर आना अशुभ है।

घटना के समय बेटी दुर्गा भवानी नौ माह की गर्भवती थी। यह देख उसने अपने दामाद को आषाढ़ माह में घर नहीं आने की चेतावनी दी। मगर सत्ती पत्नी से मिलने ससुराल आ गया।

यह देख अक्किराजू ने मुरगी काटने के लिए इस्तेमाल की जाने वाली चाकू से दामाद की हत्या कर दी। कोर्ट ने गवाह और सबूतों के आधार पर अक्किराजू को आजीवन कारावास और जुर्माने की सजा सुनवाई।