अवनीगड्डा: कृष्णा जिले के नुजिवीडू मंडल में अवैध संबंध में अड़चनें पैदा करनेवाले पिता को बेटी ने प्रेमी के सहयोग से मौत के घाट उतार दिया। बताया जा रहा है कि नुजिवीडू मंडल के तुक्कुलुरू ग्राम की लिंगमनेनि शेषुकुमारी के पति की मृत्यू वर्ष 2011 में हो गई थी। वह अपने बेटे की पढ़ाई के लिए गत चार वर्ष पूर्व नुजिवीडू के तुम्मलावारी विधि क्षेत्र में किराये के मकान में रहने लगी। इस बीच उसका गैस स्टोव मेकानिक वेमुला वेंकटेश्वर राव के साथ प्रेमसंबंध बना।

अवैध संबंध की भनक लगते ही उसके पिता कृष्णप्रसाद ने उसे हड़काया और इस तरह संबंध नहीं बनाए रखने की चेतावनी दी। पिता की चेतावनी से बेटी बौखला गई। इस क्रम में 30 जून को जब शेषुकुमारी और वेंकटेश्वर राव घर में थे, तब पिता कृष्णप्रसाद घर आया। दोनों को घर में देख उसने चीखना-चिल्लाना शुरू कर दिया। बौखलाए शेषुकुमारी और वेंकटेश्वर राव ने उसका गला दबा डाला। उसके नीचे गिरने के बाद वेंकटेश्वर राव ने उस पर लोहे की सलाख से हमला कर दिया। दोनों ने उसके शव को कार की डिक्की में रखा और अगिरपल्ली, कंकीपाडू, उय्यारू, पामर्रू होते हुए वेलुवोलु पहुंचे और पुरिटीगड्डा के निकट निम्मागड्डा रोड़ पर उसका शव फेंक दिया।

इसे भी पढ़ें :

प्रेमी के साथ मिलकर एक और महिला ने की पति की हत्या

अज्ञात शव की जानकारी मिलते ही पुलिस ने शव बरामद किया और जांच शुरू कर दी। इस बीच शेषुकुमारी पुलिस थाने पहुंची। उसने पुलिस को बताया कि समाचार पत्रों में छपी खबर के आधार पर उसने पिता के शव की शिनाख्त की है। उसने आगे बताया कि उसके पिता पेंशन के लिए अंगलुरू गए और वापस घर नहीं लौटे। उन्हें फोन भी किया लेकिन उन्होंने फोन भी नहीं उठाया।

पुलिस को जानकारी देने के बाद उसने शव बरामद किया और अवनीगड्डा में दफनाकर वापस लौट गई। पुलिस ने आधुनिक तकनीकी का उपयोग कर हत्या की गुत्थी को सुलझाया। पुलिस ने उसके बयान और कॉलडेटा के समय में अंतर होने से नुजिवीडू और चल्लापल्ली के बीच लगे सीसी कैमरे के फुटेज खंगाले। इस दौरान उन्होंने शेषुकुमारी के प्रेमी के कॉलडेटा की भी जानकारी इकठ्ठा की और सीसी कैमरे के फुटेज खंगाले।

बता दें कि घंटासाला पुलिस स्टेशन के कॉन्स्टेबल के एस शिवाजी ने सीसी कैमरे के फुटेज और कॉलडेटा प्राप्त करने में सराहनीय सहयोग दिया। पुलिस ने जानकारी डिकोडिंग कर सबूत इकठ्ठा किए और हत्या के आरोपी शेषुकुमारी और वेंकटेश्वर राव को गिरफ्तार कर अवनीगड्डा न्यायालय में पेश किया।