नई दिल्ली: बुराड़ी में सभी 11 मौतों को लेकर पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट पुलिस को मिल गई है। सबसे अधिक माथापच्ची बुजुर्ग महिला की रिपोर्ट को लेकर हुई।

11 वें और सबसे बुजुर्ग सदस्य नारायणी देवी के बारे में भी खुलासा हुआ कि उनकी मौत भी लटकने से हुई। इससे पहले नारायणी देवी की मौत को लेकर सभी डॉक्टर एकमत नहीं थे। जिसके चलते रिपोर्ट तैयार करने में देरी हो रही थी।

यह भी पढ़ें:

बुराड़ी कांड : CCTV ने खोले कई राज, ‘मौत का समान’ खुद लाया परिवार

एक जुलाई को जब पुलिस डेथ हाउस में दाखिल हुई तो सभी सदस्यों के शव चु्न्नी और तार से लटके मिले थे। जबकि नारायणी देवी का शव दूसरे कमरे में मिला। अंतिम रिपोर्ट के मुताबिक नारायणी देवी की मौत भी फंदे से लटकने से ही हुई। हो सकता है काफी संघर्ष के बाद उनका शरीर फंदे से निकल गया हो।

रिपोर्ट के मुताबिक शवों पर खरोंच के निशान मौत से पहले संघर्ष की वजह से हो सकती है। क्योंकि घर छोटा था और कई सामान रखे थे। लिहाजा संघर्ष के दौरान इन्हें चोटें भी आई होंगी।

सभी रिपोर्ट इस ओर इशारा करती है कि ये मौतें अंधविश्वास के चलते की हुई खुदकुशी है। अब नायारणी देवी व परिवार के सभी मृतक सदस्यों की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट मिलने के बाद पुलिस नए सिरे से जांच में जुट गई है। मौत के इस बड़े मामले में अब तक हत्या का कोई सुराग नहीं मिल पाया है।

ये जरूर कहा जा रहा है कि मरने वालों ने एकदूसरे को खुदकुशी के लिए सहयोग किया होगा।

बता दें कि उत्तरी दिल्ली के बुराड़ी में एक ही परिवार के 11 सदस्य मृत पाये गये थे। अधिकारी ने बताया कि रिपोर्ट का अध्ययन किया जा रहा है और उन्होंने इस संबंध में और ब्यौरा देने से इनकार कर दिया। पुलिस को परिवार के दस अन्य सदस्यों की पोस्टमार्टम रिपोर्ट पहले ही मिल गई थी। अधिकारी ने कल कहा था कि चुंडावत परिवार के दस अन्य सदस्यों की पोस्टमार्टम रिपोर्टों में कहा गया है कि लटकने से उनकी मौत हुई है और कुछ खरोंचों के अलावा शवों पर चोट के कोई निशान नहीं पाये गये है। उन्होंने बताया ,‘‘ अंतिम राय में कहा गया है कि परिवार के सदस्यों की मौत फंदे पर लटकने के कारण हुई है। ''

परिवार के दस सदस्यों के शव एक जुलाई को घर में लटके पाये गये थे जबकि नारायण देवी घर के एक अन्य कमरे में फर्श पर पड़ी हुई मिली थी। 77 वर्षीय नारायण देवी की बेटी प्रतिभा (57) और दो पुत्र भवनेश (50) तथा ललीत (45), भवनेश की पत्नी सविता (48) और उनके तीन बच्चें नीतू (25), मानिका (23) और धीरेन्द्र (15) मृतकों में शामिल हैं।

मृत पाये गये अन्य लोगों में ललित की पत्नी टीना (42), उनका 15 वर्षीय पुत्र दुष्यंत और प्रतिभा की बेटी प्रियंका शामिल हैं। प्रियंका की पिछले महीने सगाई हुई थी और इस साल के अंत में उसकी शादी होनी थी।