चेन्नई : रक्तदान करने पहुंचे रिश्तेदार एक युवक की किडनी चुराकर अपने बेटे को लगाने का सनसनीखेज मामला तमिलनाडु के अन्ननगर में देर से प्रकाश में आया है। युवक को बार-बार बीमार होते देख जब उसकी मां ने उसके स्वास्थ्य की जांच करवाई तो पता चला कि उसकी एक किडनी चोरी हो गई है। पीड़ितों के पुलिस में घटना की शिकायत करने पर पूरा मामला सामने आ गया।

पीड़ित युवक की मां द्वारा सोमवार को जिला पुलिस अधीक्षक मणिवन्न को सौंपी गई शिकायत में कहा गया है कि मधुरै जिले के ओत्तकड़ाई निवासी शकीला का बेटा मोहम्मद फक्रुद्दीन (18) फोटोग्राफी करता था। मधुरै के समीप कोट्टमपट्टी निवासी व शकीला के करिबी रिश्तेदार राजा मोहम्मद अक्टूबर 2017 में बशीर अहमद नामक एक व्यक्ति के साथ शकीला के घर पहुंचा।

राजा मोहम्मद ने अपने बेटे अजहरुद्दीन के लिए रक्तदान करने की गुहार लगाई और इसके लिए वह शकीला के बेटे फक्रुद्दीन को अपने साथ अस्पताल ले गया। फक्रुद्दीन के खून प्रदूषित होने का हवाला देते हुए उसके इलाज के नाम पर उन्होंने उससे एक कागज पर हस्ताक्षर करवा लिए। फक्रुद्दीन एक महीने तक अस्पताल में रहने के बाद घर लोटा, लेकिन जब वह कमजोर होकर चलने की स्थिति में भी नहीं था। शकीला को बेटे के अचानक बीमार होने पर शक हुआ तो उसने तुरंत उसकी चिकित्सा जांच करवाई तो पता चला कि फक्रुद्दीन की किडनी चुरा ली गई है।

इसे भी पढ़े :

सांसद JC दिवाकर रेड्डी ने टीडीपी के मंत्रियों व विधायकों को बताया निकम्मा

चलती बस में युवती ने की आत्महत्या

रक्तदान के नाम पर बेटे को अपने साथ ले गए रिश्तेदार राजा मोहम्मद और संबंधित निजी अस्पताल के मालिक से जब शकीला ने पूछताछ की तो उसे डरा-धमकाया गया। शकीला ने किडनी की चोरी और धमकियों के बारे में गत वर्ष मेलुरु थाने में शिकायत की थी, लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है। पुलिस अपने रिश्तेदार राजा मोहम्मद के साथ खड़े होने के मद्देनजर फक्रुद्दीन की मां शकीला ने अब सीधे पुलिस अधीक्षक से घटना की शिकायत की है।

पुलिस अधीक्षक ने मीडिया को बताया कि शिकायत की जांच-पड़ताल कर उचित कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं। पीड़ितों ने बताया कि इसके बाद भी अगर उन्हें इंसाफ नहीं मिलता है तो वे हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाएंगे।