बरेली: निकाह हलाला की दर्दनाक सच्चाई अब धीरे धीरे खुलकर सामने आने लगी है। बरेली के मामले में पति ने गुस्से में आकर पत्नी को तलाक दे दिया। फिर धक्के मारकर घर से भी निकाल दिया। सनक सिर से उतरने के बाद पति ने दोबारा पत्नी को अपनाने का फैसला किया। जिसके लिए हलाला करवाना जरूरी था। लिहाजा पति ने अपने पिता और महिला के ससुर से ही उसकी शादी या फिर हलाला कहिए करवा दी।

यह भी पढ़ें:

निकाह हलाला के सख्त खिलाफ है मोदी सरकार, SC में करेगी पुरजोर विरोध

ससुर की हवस बर्दाश्त करने के बाद पति ने दोबारा अपना तो लिया। एक बार फिर जब सनक सवार हुई तो पति ने दोबारा तलाक दे दी। पति का गुस्सा जब शांत हुआ तो वो फिर से पत्नी का हलाला करवाने पर उतारू है। इस बार उसने अपने ही भाई को चुना है। यानी तीसरी बार पत्नी को अपनाने के लिए वो पत्नी पर देवर से हलाला करवाने का दबाव बना रहा है।

फिलहाल पीड़ित पत्नी ने पति की शर्त मानने से इनकार कर दिया है और अपनी बहन के घर रह रही है। महिला की काउंसलिंग की जा रही है। साथ ही तीन तलाक को लेकर सुप्रीम कोर्ट के हालिया आदेश के हिसाब से पति को सजा दिलाने पर भी विचार किया जा रहा है।