हैदराबाद : सरेआम बेइज्जती, पिटाई और गालीगलौच करने से गुस्साए चार युवकों ने एक इंटरमीडिएट छात्र की बीच सड़क पर निर्मम हत्या कर दी। कुक्कटपल्ली पुलिस ने सुधीर की हत्या के मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया है, जबकि दो अन्य फरार है। पुलिस ने इस मामले में गिरफ्तार तीन आरोपियों को आज कुक्कटपल्ली थाने में मीडिया के सामने पेश किया।

कुक्कटपल्ली के एसीपी एन. भुजंगराव ने बताया कि इंटरमीडिएट छात्र एलगला सुधीर (19) का इस महीने की 9 तारीख को स्थानीय सभ्यता मैदान में स्थानीय इप्पली कृष्णा से किसी बात को लेकर झगड़ा किया। इस झगड़े के बारे में सुधीर ने अपने भाई प्रसाद को बताया। उसी दिन शाम को कृष्णा, उसके दोस्तों जिल्ला महेश, नवीन की सुधीर और प्रसाद की लड़ाई हुई।

सुधीर और प्रसाद ने बाजार में सरेआम महेश और नवीन की पिटाई कर दी। रात्रि 9 बजे मल्लन्ना मंदिर के पास पहुंचे महेश का वहां पहले से मौजूद सूधीर और प्रसाद से सामना हुआ और वहां भी उनकी लड़ाई हुई। इसपर महेश ने उसकी पिटाई करने वाले सुधीर को खत्म करने का फैसला किया। इसी के तहत उसने अपने दोस्तों कृष्णा, नवीन और तेजा के साथ मिलकर सुधीर की हत्या की योजना बनाई।

इसके लिये उन्होंने दो हसिये खरीदे और उन्हें तेजा की होंडा एक्टिवा में छिपाकर रख दिया। सुधीर की गतिविधियों पर नजर रखने के लिये उन्होंने स्थानीय निवासी बाइरेड्ला शिवा की मदद ली। सोमवार सुबह परीक्षा लिखने के लिये सुधीर को दुपहिया वाहन से वसुंधरा अस्पताल रोड़ मार्ग से गुजरते देख शिवा ने इसकी सूचना महेश और उसके दोस्तों को दी।

ये भी पढ़ें :

इंटर छात्र की दिन दहाड़े हत्या, परीक्षा लिखने जा रहा था छात्र

24 घंटे में पुलिस ने सुलझाया लूटपाट का मामला

राष्ट्रीय राजमार्ग के बगल में स्थित सागर होटल के पास महेश और उसके तीनों मित्र सुधीर के आने का इंतजार करने लगे। सुधीर के वहां पहुंचते ही उन्होंने धक्का देकर उसे वाहन से गिरा दिया और उसपर हसियों से वार किया। हमले में सुधीर वहीं ढेर हो गया। पास में मौजूद ट्रैफिक पुलिसकर्मियों ने हत्यारों को पकड़ने की कोशिश की, लेकिन तीन वहां से फरार हो गये, लेकिन नवीन उनके हाथ लगा।

पूछताछ में नवीन से मिली जानकारी के आधार पर पुलिस ने महेश और शिवा को हिरासत में ले लिया और उनके पास से एक बुलेट, दो हसिये और तीन सेलफोन बरामद कर लिये। पुलिस बाकी आरोपियों इप्पली कृष्णा और तेजा की तलाश कर रही है।