लाहौर : पाकिस्तान के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज जहीर अब्बास ने अपनी टीम से चिर प्रतिद्वंद्वी भारत से चैम्पियंस ट्ऱॉफी के पहले मैच में मिली हार का बदला फाइनल में लेने को कहा है।

चैम्पियंस ट्रॉफी के फाइनल में दोनों टीमें रविवार को आमने-सामने होंगी।

भारत ने पाकिस्तान को इस चैम्पियंस ट्रॉफी के ग्रुप-बी के मुकाबले में 124 रनों से करारी हार दी थी। पाकिस्तान ने इसके बाद हालांकि अच्छी वापसी की और ग्रुप दौर में दक्षिण अफ्रीका तथा श्रीलंका के बाद सेमीफाइनल में खिताब की प्रबल दावेदार मानी जा रही मेजबान इंग्लैंड को एकतरफा मुकाबले में परास्त करते हुए फाइनल में जगह बनाई।

पाकिस्तान के अखबार-द डॉन- ने अब्बास के हवाले से लिखा है, "पाकिस्तान के पास अब मौका है कि वो भारत को फाइनल में उसी तरह से हराए, जिस तरह से भारत ने पहले मैच में उसे हराया था।"

पूर्व बल्लेबाज का मानना है कि पाकिस्तान ने जिस तरह से वापसी की है उससे देश की उम्मीदें बढ़ गई हैं।

उन्होंने कहा, "पाकिस्तान ने जिस तरह से इंग्लैंड के खिलाफ प्रदर्शन किया उससे पूरे देश को उम्मीद है कि वह इस बड़े और अहम मैच में देश के लिए कुछ अच्छा कर सकते हैं।"

आईसीसी टूर्नामेंट में भारत, पाकिस्तान पर हावी रहा है। उसने आईसीसी टूर्नामेंट में पाकिस्तान के खिलाफ 13 जीत दर्ज की है जबकि पाकिस्तान सिर्फ दो बार ही भारत को हरा पाया है। हालांकि दोनों बार पाकिस्तान ने भारत को चैम्पियंस ट्रॉफी में ही हराया है।

अब्बास ने कहा, "पाकिस्तान ने जिस तरह से इंग्लैंड को हराया वह शानदार है। उन्होंने गेंदबाजी अच्छी की फील्डिंग भी शानदार रही और बल्लेबाजों ने भी अच्छा प्रदर्शन किया और मजबूत दावेदार को मात दी।"

उन्होंने टीम में शामिल किए गए नए चेहरों और युवा खिलाड़ियों की तारीफ भी की।

अब्बास ने कहा, "नए चेहरों ने टीम में नई जान फूंकी है। मैं सभी नए खिलाड़ी की तरीफ करूंगा जिसमें फखर जमान, रुमान रइस, हसन अली, फहीम अशरफ के नाम शामिल हैं। इन सभी ने टीम में सकारात्मक भूमिका निभाई है। अगर यह लोग इसी लगन से खेलते रहे तो पाकिस्तान का भविष्य अच्छा है।"