नई दिल्ली: भारत सरकार ने कुछ चुनिंदा अमेरिकी प्रोडक्ट्‌स पर कस्टम शुल्क बढ़ा दिया है। दरअसल भारत सरकार का ये फैसला जवाबी कार्रवाई के तौर पर देखा जा रहा है। ये शुल्क आगामी चार अगस्त से प्रभावी होंगे। इस बारे में वित्त मंत्रालय ने अधिसूचना जारी कर दी है।

दरअसल भारत सरकार का ये फैसला अमेरिका के खिलाफ जावाबी कार्रवाई के तौर पर देखा जा रहा है। इससे पहले अमेरिका ने भारत से आयातित चुनिंदा इस्पात और एल्युमीनियम उत्पादों पर शुल्क बढ़ा दिया था।

यह भी पढ़ें:

ट्रंप विदेशों में उत्पादन करने वाली कंपनियों पर सीमा शुल्क लगाएंगे

अमेरिका से आयातित बंगाली चना, मसूर दाल और आर्टेमिया पर सरकार ने आयात शुल्क बढ़ाया है। मटर और बंगाल चना पर शुल्क बढ़ाकर 60 फीसदी और मसूर दाल पर 30 फीसदी कर दी है। बोरिक एसिड और कुछ घरेलू सामानों पर भी आयात शुल्क बढ़ाया गया है। जाहिर है इससे अमेरिकी कंपनियों को झटका लगेगा।

इसके अलावा खास नटों, सेब, नाशपाती, स्टेनलेस स्टील के उत्पाद, ट्यूब पाइप फिटिंग पर भारत ने आयात शुल्क बढ़ाया है। हालांकि अमेरिका से आयातित मोटरसाइकिलों पर शुल्क में इजाफा नहीं किया गया है।