नयी दिल्ली : केंद्र सरकार ने उत्तर प्रदेश में 6000 करोड़ रुपये के प्रस्तावित मेगा फूड पार्क बनाने की अंतिम मंजूरी के लिए पतंजलि आयुर्वेद को भूमि अधिग्रहण जैसी शर्तों को पूरा करने को लेकर 15 और दिन का समय दिया है। आवश्यक शर्तों को पूरा करने की समयसीमा कल यानी 15 जून को समाप्त हो रही है।

उत्तर प्रदेश सरकार ने केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण मंत्रालय से पतंजलि को अधिक समय देने तथा समयसीमा को 30 जून तक बढ़ाने का अनुरोध किया था। खाद्य प्रसंस्करण सचिव जे पी मीणा ने कहा, ‘‘चूंकि कंपनी पहले ही कदम उठा रही है और शर्तों को पूरा करने के लिए 15 दिन के अतिरिक्त समय की मांग की है , मंत्रालय अनुरोध के हिसाब से समय दे देगा। इसमें कोई दिक्कत ही नहीं है।'' उन्होंने कहा कि मुद्दे को मंत्रालय की स्वीकृति समिति के सामने रखा जाएगा।

इसे भी पढ़ें :

तेलंगाना में फूड पार्क स्थापित करेगी पतंजलि, राज्य सरकार के साथ हुआ करार

मीणा ने कहा, ‘‘हमारा उद्देश्य यह सुनिश्चित करना है कि परियोजना शुरू हो। हम इसे रद्द करने का कारण नहीं खोज रहे हैं। हम अतिरिक्त 15 दिन का समय देंगे। ''उल्लेखनीय है कि पतंजलि ने यमुना एक्सप्रेस वे के किनारे 425 एकड़ जमीन में 6000 करोड़ रुपये की लागत से फूड पार्क बनाने का प्रस्ताव दिया था।