फ्रांसिस्को : इंटरनेट कंपनी गूगल के एक वरिष्ठ कार्यकारी ने कहा कि गूगल असिस्टेंट एप इस साल के अंत तक हिंदी समेत 30 से अधिक नयी भाषाओं में उपलब्ध हो जाएगा। यह गूगल का एक आधिकारिक एप है जो स्मार्टफोन के होमपेज पर बटन दबाने या ओके गूगल बोलने पर स्मार्टफोन को वर्चुअल असिस्टेंट में बदल देता है।

अभी यह एप आठ भाषाओं अंग्रेजी, फ्रेंच, जर्मन, इतालियन, जापानी, कोरियन, स्पेनिश और पुर्तगीज में उपलब्ध है। गूगल के उपाध्यक्ष (उत्पाद) निक फॉक्स ने कल कहा, ‘‘एंड्रॉयड की तरह हमने जहां मोबाइल करियरों और डिवाइस निर्माताओं से हर जगह उपभोक्ताओं को शानदार उत्पाद मुहैया कराने का करार किया है, हम वहां मोबाइल असिस्टेंट के लिए पारिस्थितिकी तैयार करने पर काम कर रहे हैं।''

उन्होंने कहा कि इस साल के अंत तक यह 30 से अधिक नयी भाषाओं में उपलब्ध होगा जिससे इसकी पहुंच 95 प्रतिशत एंड्रॉयड उपभोक्ताओं तक हो जाएगी।

यह भी पढ़ें :

दुनिया की पहली स्मार्टफोन संचालित कार पेश करेगी हुआवेई

संभव हुआ ‘टाइम ट्रेवलिंग,’ 2018 में आया 2030 का मानव, जानें क्या की भविष्यवाणी

संभव हुआ ‘टाइम ट्रेवलिंग,’ 2018 में आया 2030 का मानव, जानें क्या की भविष्यवाणी

फॉक्स ने ब्लॉग पर लिखा, ‘‘अगले कुछ महीने में हम असिस्टेंट को एंड्रॉयड और आईफोन के लिए डैनिश, डच, हिंदी, इंडोनेशियन, नॉर्वेजियन, स्वीडिश और थाई भाषाओं में लाने वाले हैं। हम साल के दौरान और भी भाषाएं जोड़ेंगे।'' उन्होंने कहा, ‘‘हम बाद में इसी साल असिस्टेंट को बहुभाषीय बनाने वाले हैं। इससे वैसे परिवार जो एक से अधिक भाषाएं बोलते हैं, असिस्टेंट का इस्तेमाल कर सकेंगे।''

फॉक्स ने कहा, ‘‘इस नये फीचर के बाद असिस्टेंट लोगों को कई भाषाओं में समझने योग्य हो जाएगा। यदि आप काम की जगह पर जर्मन बोलना पसंद करते हैं पर घर में फ्रेंच बोलते हैं, असिस्टेंट हर जगह आपके साथ रहेगा। बहुभाषीय असिस्टेंट सबसे पहले अंग्रेजी, फ्रेंच और जर्मन में उपलब्ध होगा तथा आनेवाले समय में इसमें अन्य भाषाएं जोड़ी जाएंगी।''