वाशिंगटन : अमेरिका 2018 में दुनिया में तेल का बादशाह बन सकता है। अमेरिका में कच्चे तेल के उत्पादन में 10 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ रोजाना करीब 110 लाख बैरल होने की उम्मीद है। इस तरह तेल उत्पादन के मामले में अमेरिका अव्वल स्थान पर पहुंच सकता है।

अमेरिका 1975 से तेल के मामले में ग्लोबल लीडर नहीं रहा है और यह रूस और सऊदी अरब से भी आगे नहीं रहा है।

सीएएनएन की रिपोर्ट के मुताबिक रिसर्च कंपनी रायस्टैड एनर्जी ने अपनी एक रिपोर्ट के जरिये बुधवार को कहा कि अमेरिका में शेल से तेल का उत्पादन बढ़ रहा है जिससे यह कच्चे तेल के उत्पादन के मामले में रूस और सऊदी अरब को पीछे छोड़ सकता है।

रायस्टैड की वाइस प्रेसिडेंट नादिया मार्टिन ने कहा, "अमेरिकी शेल मशीन के कारण बाजार बिल्कुल बदल चुका है।"

रिपोर्ट के मुताबिक, शेल से तेल उत्पादन के चलते विदेशों से तेल आयात पर अमेरिका की निर्भरता कम हुई है। साथ ही कच्चे तेल की कीमतों में बीते दिनों भारी गिरावट भी दर्ज की गई जब 100 डॉलर प्रति बैरल के आसपास रहने वाला तेल 26 डॉलर प्रति बैरल हो गया था।